Savita Bhabhi Ke sath Meri Pahli Chudai – सविता भाभी के साथ मेरी पहली चुदाई

मेरा नाम समीर है, मेरी उम्र 20 वर्ष है, दिल्ली का रहने वाला हूँ। मैं इंजीनियरिंग कर रहा हूँ, और मैं एक जिगोलो हूँ। Hamarivasna पर यह मेरी पहली कहानी है, अगर कोई गलती हो तो मैं क्षमा चाहता हूँ। मुझे विवाहिता स्त्री बहुत पसंद है क्योकि विवाह के बाद स्त्री और भी सुंदर हो जाती है। यह कहानी भी एक विवाहिता स्त्री की ही है। Savita Bhabhi Ke sath Meri Pahli Chudai.

बात आज से दो साल पहले की है जब मैं अपनी बुआ के यहाँ गाँव में घूमने गया था। गाँव का माहौल शहरों से बिल्कुल अलग होता है, मुझे गाँव में आकर बहुत अच्छा लगा। उस समय मैं एक सीधा-सादा लड़का था। मैं किसी लड़की से आँख भी नहीं मिला पाता था, पर शुरू से ही मुझे लड़कियों से ज्यादा विवाहिता स्त्रियों में ज्यादा दिलचस्पी रही, उनसे बोलने, बाते करने और उनकी तरफ देखने में मैं बहुत कम शर्माता था !

बुआ के पड़ोस में एक भाभी रहती थीं, उनका नाम सविता (बदला हुआ) था, वो लगभग 27 साल की थीं। उनकी शादी को 7 साल हो चुके थे पर उन्हें कोई संतान नहीं थी, इसलिए वो बहुत दुखी रहती थीं। इस बात को लेकर सब लोग उन्हें ताने देते थे, सबसे ज्यादा उनकी सास, वो उन्हें बाँझ कह कर बुलाती थी।

ये सब देख कर मैं कुछ उदास हो गया, मेरे मन में उनके लिए एक जगह बन गई। मैं उनका दुःख दूर करना चाहता था पर मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मुझे क्या करना चाहिए। भाभी की बुआ से अच्छी बोल चाल थी, कभी कभी वो घर भी आती थी लेकिन उनसे बात करने की मेरी हिम्मत नहीं होती थी।

एक दिन वो हमारे यानि बुआ के घर आईं और मेरे बारे में पूछने लगीं। बुआ ने बताया कि मैं छत पर हूँ और मैं छत से उनकी बातें सुन रहा था।

बुआ ने पूछा- तुम्हें क्या काम है समीर से?

तो भाभी ने बताया कि उन्हें कुछ सामान चाहिए जो कि टांड पर रखा हुआ है और वो उतार नहीं पा रही हैं।

बुआ ने मुझे आवाज लगाई- समीर नीचे आओ।

तो मैं छत से ही नीचे आँगन की ओर देखकर बोला- बुआ, क्या काम है?

बुआ ने कहा- तुझे भाभी बुला रही हैं, इन्हें टांड से कुछ सामान उतरवाना है, इनकी मदद कर दे !

मैंने काहा- बुआ, बिट्टू(बुआ का लड़का) को भेज दो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *